शशि थरूर ने अरुण जेटली को याद करते हुए की ये दिलचस्प टिप्पणी

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने रविवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया और एक दिलचस्प टिप्पणी को याद करते हुए कहा कि भाजपा नेता ने कहा था ‘भारत का अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) में वही स्थान है जैसा संयुक्त राज्य अमेरिका का संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में है।’

थरूर ने कहा, ‘मैं कभी भी क्रिकेट को लेकर उनकी सबसे अच्छी लाइनों में से एक को नहीं भूलता- भारत का ICC में वही स्थान है जैसा अमेरिका का UNSC में है। एक मंत्री के रूप में वह बहुत प्रभावशाली थे। संसद में उनसे सवाल पूछना हमेशा फायदेमंद था क्योंकि वे आपको गं!भीर जवाब देते थे।’

उन्होंने कहा, ‘दिल्ली विश्वविद्यालय के दिनों से मेरे दोस्त अरुण जेटली के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है। हम एक-दूसरे को तब से जानते हैं जब हम छात्र थे। जब मैं सेंट स्टीफेंस कॉलेज छात्र संघ का अध्यक्ष था, तब वह DUSU के अध्यक्ष थे। हम राजनीतिक रूप से एक नहीं थे। वास्तव में मेरा यूनियन राजनीतिक नहीं था, जबकि उस समय DUSU ABVP के नियंत्रण में था, जिसमें अरुण जेटली अग्रणी थे।’

थरूर ने कहा कि वे एक-दूसरे के लिए आपसी सम्मान रखते था। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मुझे आश्चर्य हुआ कि उन्होंने छात्र प्रतिनिधि के रूप में अकादमिक परिषद के लिए मेरी उम्मीदवारी का समर्थन किया, भले ही हम कुछ मुद्दों के बारे में राजनीतिक रूप से सहमत नहीं थे। उन्होंने कहा कि हमें परिषद में छात्र निकाय का प्रतिनिधित्व करने के लिए आपकी तरह के लोगों की आवश्यकता है।’

थरूर ने कहा कि उन्हें अनुभवी राजनेता के निधन पर बहुत बड़ा नु!कसान हुआ है। यह भारत के लिए बहुत बड़ा नुकसान है, जो राजनीतिक विभाजन के बीच परस्पर सम्मान की भावना के लिए लोकतंत्र में बहुत महत्वपूर्ण है। उनकी परिवार के प्रति मेरी गहरी सं!वेदना है।’

जेटली लंबे समय तक बतौर प्रशासक डीडीसीए के अध्यक्ष रहे। उन्होंने साल 1999 से 2013 तक डीडीसीए के अध्यक्ष का पद संभाला और दिल्ली क्रिकेट की रूपरेखा बदलने में सफल रहे। उनके अध्यक्ष रहते वीरेंद्र सहवाग, आकाश चोपड़ा, गौतम गंभीर, इशांत शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली जैसे दिग्गज खिलाड़ी निकले जिन्होंने दिल्ली का नाम देश और दुनिया में रोशन किया।