राजनीति में कदम रखने को लेकर संजय दत्त ने खुद जारी किया ये बयान

बालीवुड के जा!ने-माने एक्टर संजय दत्त को लेकर चर्चा! है कि उन्होंने सियासत में फिर से दस्तक दे दी है। लेकिन, अब दत्त ने इसको लेकर सफाई पेश की है और अपना रू!ख स्पष्ट किया है। संजय दत्त ने एक बयान में कहा है कि वे अभी किसी राजनीतिक पार्टी से नहीं जुड़ेंगे।

उन्होंने कहा, ‘वो अपने काम और अपने परिवार के साथ खुशी से जी रहे हैं।’ इसी के साथ उन्होंने राजनीती से जुड़ने की खबर को महज अफवा!ह करा!र दिया है।

संजय दत्त ने कहा है, ‘मैं कोई राजनीतिक पार्टी से नहीं जुड़ रहा हूं। जानकर मेरे प्यारे दोस्त और मेरे भाई जैसे हैं। मैं उनको भविष्य के लिए शुभकामनाएं जरूर देता हूं और देता रहूंगा।’ बता दें संजय दत्त के राजनीति में आने की खबर राष्ट्रीय समाज पक्ष के नेता और प्रदेश सरकार में मंत्री महादेव जानकर ने दी थी।

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री महादेव जानकर ने एक में एक मीटिंग मे कहा था कि संजय दत्त राष्ट्रीय समाज पार्टी (RSP) के साथ जुड़ेंगे। संजय दत्त उनकी पार्टी (राष्ट्रीय समाज पार्टी) में 25 सितंबर को शामिल होंगे। आरएसपी महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ भाजपा की सहयोगी पार्टी है।

पिता सुनील दत्त, बहन प्रिया दत्त भी थे राजनीति का हिस्सा

आपको बता दे ये पहली बार नहीं है कि जब संजय दत्त के राजनीति में आने की खबरें सा!मने आई हैं। इससे पहले लोकसभा चुनाव के दौरान तो ये अफवाह भी फैली थी कि संजय दत्त चुनाव ल!ड़ने वाले हैं। हालांकि संजय दत्त ने खुद सा!मने आकर कहा था कि वो किसी पार्टी में शामिल नहीं होने जा रहे। उन्होंने ने ये भी कहा था कि  वो चुनाव के दौरान अपनी बहन प्रिया दत्त को सपोर्ट करेंगे।

संजय दत्त के पिता सुनील दत्त और बहन प्रिया दत्त कांग्रेस के सांसद रह चुके हैं। सुनील दत्त लंबे समय तक केंद्र में मंत्री भी रह चुके हैं। वहीं खुद संजय दत्त भी साल 2009 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर लखनऊ से लोकसभा उम्मीदवार थे, लेकिन अदालत की ओर से आर्म्स एक्ट के तहत उनकी स!जा को निलं!बित करने से इनकार करने की वजह से वे खुद ही पीछे ह!ट गए थे।