अफवाह फैलाने के आरोप में महाराष्ट्र पुलिस ने ABP न्यूज़ रिपोर्टर को किया गिरफ्तार

loading...

महाराष्ट्र में एक टीवी पत्रकार के खिलाफ उस खबर को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई जिसमें कहा गया था कि ट्रेन सेवाएं बहाल होंगी, जिसके कारण उपनगर बांद्रा में मंगलवार को प्रवासी कामगार उमड़ पड़े।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले के आरोपी राहुल कुलकर्णी को हिरासत में ले लिया गया है और पुलिस उसे मुंबई ला रही है।

loading...

उन्होंने बताया कि हाल ही में एक खबर में कुलकर्णी ने कहा था कि लॉकडाउन के कारण फंसे हुए लोगों के लिए जन साधारण विशेष ट्रेनें बहाल होंगी। अधिकारी ने बताया कि उस पर आईपीसी की धारा 188, 269, 270 और 117 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि मंगलवार दोपहर को यहां बांद्रा रेलवे स्टेशन के समीप 1,000 से अधिक प्रवासी कामगार उमड़ पड़े थे जिनमें से अधिकतर बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के थे। वे मांग कर रहे थे कि राज्य सरकार उनके लिए यातायात का प्रबंध करें ताकि वे अपने-अपने शहर और गांव लौट सकें।

मुम्बई के बांद्रा स्टेशन पर उमड़ी प्रवासी मजदूरों की भीड़ के पीछे एबीपी माझा मराठी न्यूज़ ने सुबह 11 बजे खबर चलाई कि प्रवासियों को उनके गांव ले जाने के लिए बांद्रा से ट्रेनें चलाई जा रही हैं।

सूत्र बता रहे हैं कि क़रीब 150 बसों में भरकर उन्हें स्टेशन तक लाया गया । लिहाजा हजारों की भीड़ का स्टेशन पर जमा होना स्वाभाविक था।

बड़ा सवाल यही है कि किसके इशारे पर एबीपी मराठी ने यह गलत खबर चलाई।

इसी खबर के फैलने से हज़ारों प्रवासी मज़दूर रेल स्टेशन पर जमा हो गए थे। गंभीर सवाल यह है कि इसी ग्रुप का हिंदी चैनल मामले को मुस्लिम एंगल देकर कान्सपिरेसी थ्योरी आगे बढ़ा रहा था।

loading...