किसान क्रांति पदयात्रा: किसानों ने मिले राजनाथ सिंह, इन बातों पर बनी सहमती

loading...

हजारों की संख्‍या में किसान

दिल्‍ली में प्रवेश को तैयार हैं। हरिद्वार से भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले निकली ‘किसान क्रांति पदयात्रा’ को उत्‍तर प्रदेश-दिल्‍ली की सीमा पर रोक दिया गया है। किसान राष्‍ट्रीय राजधानी में प्रवेश चाहते हैं, बैरिकेडिंग तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश हुई जिसपर सुरक्षा बल ने वाटर कैनन और आं!सू गै!स के गोल दाग किसानों को तितर-बितर करने की कोशिश की।

loading...

एक प्रदर्शनकारी किसान ने कहा कि पुलिस की कार्रवाई में कई लोग घा!यल हो गए जिनमें एक प्रदर्शनकारी बेहो!श हो गया। उन्होंने यह भी दावा किया कि प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिसकर्मियों ने ‘ला!ठीचार्ज’ भी किया।

पूर्ण ऋण माफी और विद्युत दरों में कमी सहित अन्य मांगों को लेकर ‘किसान क्रांति यात्रा’ के बैनर तले हरिद्वार से चलकर दिल्ली जा रहे किसानों को पुलिस ने गाजियाबाद सीमा पर रोक दिया। प्रदर्शनकारियों ने अपनी 10 दिवसीय यात्रा भारतीय किसान यूनियन की अगुआई में शुरू की थी।

प्रदर्शनकारी मंगलवार को उत्तर प्रदेश – दिल्ली की सीमा पर पहुंच गए। प्रदर्शन को देखते हुए दोनों प्रदेशों की सीमा पर भारी सुरक्षा बल तैनात कर दिया गया और राष्ट्रीय राजधानी में कुछ इलाकों में धारा 144 भी लागू कर दी गई थी।

“किसान राजधानी आकर दर्द भी नहीं सुना सकते”

राहुल ने कहा, ‘‘अब किसान देश की राजधानी आकर अपना दर्द भी नहीं सुना सकते! ’’  ऋण माफी और ईंधन के दामों कटौती सहित अपनी कई दूसरी मांगों को लेकर दिल्ली की ओर बढ़ रहे किसानों को दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा पर मंगलवार को रोक दिया गया। पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछार की और आं!सू गैस के गो!ले छो!ड़े।

किसानों की पिटा!ई से शुरू हुआ भाजपा का गांधी जयंती समारोह: राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘किसान क्रांति यात्रा’ को रोकने के लिए किसानों पर कथित तौर पर बल प्रयोग किए जाने को लेकर मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और कटाक्ष करते हुए कहा कि ‘किसानों की बर्बर पिटाई’ से भाजपा ने अपने गांधी जयंती समारोह की शुरुआत की है। गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘विश्व अंहिंसा दिवस पर इखढ का दो-वर्षीय गांधी जयंती समारोह शांतिपूर्वक दिल्ली आ रहे किसानों की बर्बर पिटा!ई से शुरू हुआ।’’

राजनाथ ने की मुलाकात, किसानों से मिलने जाएंगे मंत्री

केंद्रीय कृषि राज्‍य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मीडिया से कहा, ”गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किसान नेताओं से मुलाकात की और उनकी मांगों पर चर्चा की। अधिकतर मुद्दों पर सहमति बन गई है। किसान नेता, यूपी के मंत्री लक्ष्‍मी नारायण, सुरेश राणा और मैं किसानों से मिलने जाएंगे।”

किसान आंदोलन: सरकार-किसानों में 7 मुद्दों पर सहमति बनी, बड़ी कवरेज

किसान आंदोलन: सरकार-किसानों में 7 मुद्दों पर सहमति बनी, बड़ी कवरेज

Posted by ABP News on Tuesday, October 2, 2018

loading...