पालघर लिंचिंग मामले में अपने चैनल पर बैठकर दंगा भड़काने की कोशिश कर रहा है

loading...

अगर कांग्रेस पार्टी, श्रीमती सोनिया गांधी और राहुल गांधी में जरा सा भी आत्मसम्मान बचा है तो ये दंगाई अर्नब गोस्वामी जेल के अंदर होना चाहिए। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बारे में जिस तरह की टिप्पणी यह रक्तपिपासु जानवर खुलेआम कर रहा है, कांग्रेसियों के लिए शर्म की बात है।

किसी भी भारतीय महिला पर, खास तौर से ऐसी महिला जो देश के पूर्व प्रधानमंत्री की पत्नी हैं, इस तरह की बेबुनियाद, घटिया और नस्लीय पूर्वाग्रह से ग्रस्त टिप्पणी नाकाबिल-ए-बर्दाश्त है। अगर कांग्रेसी अब भी चुप रहे तो उनको इतिहास की गर्त में जाने से कोई नहीं रोक सकता।

loading...

पालघर मामले में यह साफ हो चुका है कि इसमें विक्टिम और आरोपियों का मजहब एक ही है तथा यह साम्प्रदायिक हिंसा का मामला नहीं है।

इसके बावजूद जिस तरह यह बेलगाम और सनकी एंकर पालघर लिंचिंग मामले में अपने चैनल पर बैठकर दंगा भड़काने की कोशिश कर रहा है, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को इसके ऊपर तुरंत FIR करवाकर इसे जेल में बंद करना चाहिए। ये आदमी देश की एकता और अखंडता के लिए गंभीर खतरा है।

अगर इस देश में कानून का शासन वाकई है तो सुप्रीम कोर्ट को, मानवाधिकार आयोग को, महिला आयोग को, भारत सरकार के गृह मंत्रालय को इस वीडियो का संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई करना चाहिए।

साभार: धर्मवीर यादव एडवोकेट की फेसबुक वाल से लिया गया लेख

loading...